मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधुने ने 15वें वित्त आयोग द्वारा संस्तुत अनुदान के तहत कराए जा रहे कार्यों की समीक्षा

देहरादून /10अगस्त/ गुरुवार- आज मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु की अध्यक्षता में आज सचिवालय में 15वें वित्त आयोग द्वारा संस्तुत अनुदान के तहत कराए जा रहे कार्यों की समीक्षा हुई। उन्होंने योजना के तहत सभी कार्यों को निर्धारित समय सीमा के अन्तर्गत वित्तीय एवं भौतिक प्रगति को सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

मुख्य सचिव ने कहा कि जिन कार्यों के उपयोगिता प्रमाणपत्र अभी तक प्रस्तुत नहीं किए गए हैं, शीघ्र प्रस्तुत किए जाएं। शहरी स्थानीय निकायों एवं पंचायतीराज विभाग द्वारा वित्तीय वर्ष 2022-23 के अनन्तिम एवं वित्तीय वर्ष 2021-22 के अन्तिम लेखा परीक्षित लेखाओं को शीघ्र उपलब्ध कराया जाए।

मुख्य सचिव ने कहा कि जहां कार्य ज्यादा है वहां पर कर्मचारियों की संख्या बढ़ायी जाए। उन्होंने शहरी विकास, पंचायतीराज एवं स्वास्थ्य विभाग को सामंजस्य से कार्य करने के निर्देश देते हुए कहा कि अवमुक्त बजट को शीघ्र खर्च करने के साथ ही गुणवत्ता पर भी ध्यान दिया जाए।

इस अवसर पर प्रमुख सचिव श्री आर.के. सुधांशु, सचिव श्रीमती राधिका झा, श्री अरविन्द सिंह ह्यांकी, श्री दिलीप जावलकर एवं अपर सचिव श्री रोहित मीणा सहित अन्य विभागीय उच्चाधिकारी उपस्थित थे।